जान लें पानी पीने का सही तरीका, नहीं होगें कभी बीमार

पानी हमारे जीवन के लिए बहुत सबसे महत्तवपूर्ण है। अक्सर हम लोग पानी कभी भी कैसे भी पी लेते हैं, लेकिन लोगों को पानी पीने का सही तरीका नहीं पता होता है। तो आइए जानते हैं कि पानी पीने का सही समय और तरीका क्या है।


आयुर्वेद के अनुसार, पानी, शरीर के तापमान से ठंडा नहीं होना चाहिए। गर्मियों में लोग धूप से घर आकर सीधे ठंडा पानी पी लेते हैं।एेसा करना हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक है।बहुत ज्यादा ठंडा पानी पीने से शरीर में कमजोरी आ जाती है। ज्यादा ठंडा पानी पीने से हार्ट अटैक, किडनी फेल आदि का खतरा बढ़ जाता है। रात को पानी तांबे के बर्तन में रखकर रोज सुबह 90 दिन तक पीने से शरीर से तमाम बीमारियां दूर हो जाती हैं। ये शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। साथ ही आगर आप मुंहासों, दानों या त्वचा संबंधी किसी भी रोग से निजात दिलाता है।


सीधे बोतल से पानी पीने से बचें और गिलास में ही पानी डालकर पीना चाहिए। एक बार में ज्यादा पानी पीने से बचें। पेट पानी से ना भरें। जब बीमार पड़ें तो खूब पानी पिएं। सुबह उठने के बाद दो गिलास पानी पीना चाहिए। खाना खाने के करीब आधा घंटा पहले पानी पीना लेना चाहिए, इससे खाना आसानी से पचता है। भोजन करने के आधे घंटे तक पानी नहीं पीना चाहिए। नहाने से आधा घंटा पहले पानी पीने से ब्लड प्रेशर की समस्या नहीं होती।


रात को सोने से पहले पानी पिएं। ऐसा करने से हार्ट अटैक का खतरा कम होता है। कसरत करने से पहले और बाद में एक गिलास पानी पीने से डिहाइड्रेशन की समस्या नहीं होती है। साथ ही कसरत के बाद जो पसीना आता है पानी उसकी कमी पूरी करता है। घर से बाहर निकलते समय पानी पी लें। हो सके तो बाहर के पानी को पीने से बचें।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Post a Comment

Previous Post Next Post