World Health Day 2018: 100 साल की उम्र में भी रहना है फिट, तो रोज करें योगा

स्वस्थ रहने व बीमारियों के इलाज में योग-प्राणायाम की मान्यता देश-विदेश में बढ़ी है, लेकिन योगाभ्यास को अपनाने वाले इस बात को लेकर दुविधा में रहते हैं कि उन्हें कितने आसन या प्राणायाम करने चाहिए। योगाभ्यास करने वालों के मन में कुछ सवाल आते हैं, जिनके बारे में जानकर यदि वे इसे करेंगे, तो उन्हें निश्चित तौर पर फायदा होगा। जो लोग नियमित योगासन करते हैं, उनमें बढ़ती उम्र का असर बिल्कुल भी नजर नहीं आता है। बीमारियां उनसे कोसों दूर भागती हैं। हेल्दी लाइफ स्टाइल के लिए योग से बेहतर कुछ भी नहीं है। वल्र्ड हेल्थ डे पर पत्रिका की खास रिपोर्ट...

गर्मी में भी राहत देता है योग...
जिन लोगों की ऊंचाई वाले स्थानों पर ऑक्सीजन की कमी से या अधिक तापमान वाले गर्म स्थानों पर तबीयत खराब हो जाती है, उन्हें भी योगासन से फायदा होता है। विषम परिस्थितियों में ३-४ महीने तक एक जगह रुकना मुश्किल होता है। सेना के जवानों ने योगाभ्यास किया, तो उनकी शारीरिक क्षमता बढ़ गई।

इन अभ्यास से रह सकते स्वस्थ...
सामान्य व्यक्तियों के लिए 8-10 आसन पर्याप्त हैं, इससे ज्यादा की जरूरत नहीं होती है। इसी तरह प्राणायाम की बात करें, तो दो-तीन तरह के पर्याप्त हैं। जैसे अनुलोम विलोम, नाड़ी शोधन प्राणायाम, शीतली प्राणायाम और भ्रामरी। ध्यान या योग निद्रा में से किसी एक का अभ्यास जरूर करें।

विषैले तत्व बाहर निकाले योग...
आजकल तनाव से अधिक बीमारियां हो रही हैं। इनमें योग की शुद्दिकरण क्रिया से शरीर में जमा विषैले तत्वों को बाहर निकालते हैं। एंजायटी और डिप्रेशन को दूर करने में योग कारगर है। इसी तरह हृदय से जुड़े रोगों एवं हाइपरटेंशन जैसी समस्याओं के इलाज में प्राणायाम, ध्यान, योग निद्रा जैसी तकनीकें अत्यंत लाभदायक हैं।
कंटेंट: कुमार कुंदन

nanammal

98 साल की उम्र में योग रखता है अस्पताल से दूर
तमिलनाडु की नानाम्मल अपने जीवन में कभी अस्पताल नहीं गईं और न ही कभी बीमार हुई हैं। सेहत का राज बचपन से योग करना है। जब छोटी थीं, तभी पिता ने योग सिखा दिया था।
रोजाना करती हैं नीम का दातून...
वे सुबह जल्दी उठती हैं और पहले आधा लीटर पानी पीती हैं। घर हो या बाहर दांत हमेशा नीम के दातून से साफ करती हैं। धनिया, जीरा, अदरक से बनी सुक्कु कॉफी पीती हैं। इनके वीडियो इंटरनेट पर काफी देखे जाते हैं। फिटनेस के मामले में नानाम्मल हर उम्र के लिए एक प्रेरणा हैं।
(हैल्थ टीम)

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Post a comment

0 Comments