दस मिनट की एक्सरसाइज बनाएगी दुरुस्त

बचपन में रस्सी कूदना और दौड़ लगाना बेशक हमारे लिए खेल होते हों लेकिन बड़े होने पर ये खेल ही हमें फिट रखने में मदद करते हैं। हल्की-फुल्की एक्सरसाइज भी शरीर को तंदरुस्त रखती है।

आज के समय में महिलाएं मल्टीटास्किंग हैं। वे घर-परिवार से लेकर बाहर की दुनिया में भी अपनी सफलता के परचम लहरा रही हैं। लेकिन इन सब के बीच जिस चीज की सबसे ज्यादा अनदेखी होती है, वह है उनकी अपनी सेहत। अगर आप भी समय के अभाव के चलते खुद की सेहत के साथ समझौता कर रही हैं तो अब ऐसा करने की आवश्यकता नहीं है। कुछ एक्सरसाइज को महज दस से मिनट करके खुद को हमेशा चुस्त और दुरुस्त रख सकती हैं।

शुरूआत हो सही

भले ही आपके पास समय कितना भी कम हो लेकिन हमेशा एक्सरसाइज से पहले दो-तीन मिनट तक वार्मअप अवश्य करें। यह शरीर को एक्सरसाइज के लिए तैयार करेगा। इसके लिए फल बॉडी स्टे्रच करना अच्छा विचार हो सकता है। इसके अभ्यास के लिए पहले सीधे खड़े हो जाएं। इस दौरान कमर व गर्दन को सीधा रखें। अब हाथ को सिर के ऊपर करें और सांस लेते हुए धीरे-धीरे पूरे शरीर को खींचें। कुछ समय के लिए इसी अवस्था में रखें। फिर सांस छोड़ते हुए धीरे -धीरे सामान्य अवस्था में लौट आएं।

रस्सी कूदना

रस्सी कूदना तो हर लडक़ी को बचपन से ही पसंद होता है। अब इसे अपने वर्कआउट का हिस्सा बनाएं। रस्सी कूदने से शरीर के हर अंग का व्यायाम हो जाता है और फिर आपको अन्य किसी एक्सरसाइज को करने की आवश्यकता नहीं पाती। प्रतिदिन महज पांच से दस मिनट तक रोप जंपिंग करने से हर बीमारी को खुद से दूर रख सकती हैं। जिनका वजन ज्यादा है उन्हें भी इस एक्सरसाइज से काफी फायदा मिलता है। कुछ ही दिनों में आपके पेट का आकार कम होने लगेगा।

रनिंग

अगर आपके पास थोड़ा समय है तो रनिंग करना एक अच्छा विचार हो सकता है। कोशिश करें कि हर वीकेंड आप कुछ देर रनिंग अवश्य करें। रनिंग करते समय विशेष ध्यान रखें कि शुरूआत हमेशा छोटे कदमों से ही करें। फिर धीरे-धीरे अपनी स्पीड बढ़ाएं। रनिंग के दौरान स्पीड को घटा-बढ़ाकर ज्यादा इफेक्टिव बनाया जा सकता है।

इन बातों का रखें ध्यान

कभी भी खाना खाने के तुरंत बाद एक्सरसाइज न करें, न ही व्यायाम के तुरंत बाद हैवी भोजन करें। अपना रूटीन कुछ इस तरह सेट करें कि भोजन और एक्सरसाइज के बीच दो घंटे का गैप अवश्य हो। जब भी व्यायाम करें तो अंत में रिलैक्स एक्सरसाइज अवश्य करें। जिस तरह किसी चीज की शुरुआत सही तरीके से जरूरी है उसी तरह अंत भी। इसलिए व्यायाम के दौरान शुरूआती दो-तीन मिनट वार्मअप, दस मिनट एक्सरसाइज व अंतिम पांच मिनट रिलैक्स होने में लगाएं। रिलैक्स होने के लिए मेडिटेशन करें।

Post a Comment

Previous Post Next Post